दिल्ली NCR समाचारमुख्य समाचार

टिकट कटे 15 आप विधायक पार्टियों की तोड़ने की कोशिश के बाद भी AAP में रहें: केजरीवाल

378views

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 (Delhi Assembly Elections 2020) के लिए बिगुल बज गया है। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) के साथ ही भाजपा और कांग्रेस भी सत्ता प्राप्ति के लिए संघर्ष कर रही हैं। दिल्ली विधानसभा की सभी 70 सीटों के लिए 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे और मतगणना 11 फरवरी को होगी।

इस बीच गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) (Aam Aadmi Party) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को चुनाव लड़ने का अधिकार है और उनके खिलाफ किसी के चुनाव लड़ने से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता है।

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी अपने तीनों वादों- क्राइम, करप्शन और कैरेक्टर के मुद्दे पर अडिग है और इनसे कभी समझौता नहीं करेगी। केजरीवाल ने कहा कि ‘आप’ का उद्देश्य राजनीति को साफ करना है और इसी की वजह से वह आज इतने अधिक काम कर पाए हैं।

केजरीवाल ने संवाददाताओं के एक सवाल के जवाब में कहा सभी पार्टियां ‘आप’ के जिन 15 मौजूदा विधायकों को टिकट नहीं दिया गया है उनसे संपर्क कर उन्हें तोड़ने की कोशिश करेंगी, लेकिन लेकिन वे सभी 15 विधायक हमारे परिवार का हिस्सा हैं और मुझे उम्मीद है कि वे ऐसे ही रहेंगे। वहीं टिकट बेचे जाने के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि जब किसी को टिकट नहीं मिलता है तो इस तरह के आरोप लगते रहते हैं।

गौरतलब है कि 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को कुल 67 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। वहीं भाजपा को तीन सीटें मिली थीं, जबकि कांग्रेस अपना खाता तक नहीं खोल सकी थी। इसके अलावा 2019 के लोकसभा चुनाव में में दिल्ली की सभी 7 लोकसभा सीटों पर भाजपा को जीत हासिल हुई थी।

Leave a Response