फरीदाबाद

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक – दो बिंदु केंद्र सरकार से जुड़े हुए सुझाव भी आए हैं। वह हम केंद्र सरकार को देंगे।

328views

हरियाणा की जनता के लिए बजट में कुछ खास को लेकर उन्होंने कहा कि बजट के बाद ही बात की जाए तो ज्यादा बेहतर रहेगा।

 फरीदाबाद 16-01-2020 (Chetan Sharma) मुख्यमंत्री मनोहर लाल में  उद्योगपतियों के साथ फ्री बजट पर संवाद करने के बाद कहा कि बजट से पहले हम लोगों के साथ एक नई परंपरा शुरू की है। जितने भी स्टेकहोल्डर्स है, सर्विस सेक्टर, इंडस्ट्री, एग्रीकल्चर के लोगों से भी बात करेंगे। जो इनकी अपेक्षाएं हैं बजट से हरेक सेक्टर के अलग-अलग कठिनाइयां हैं।उनको कैसे हल किया जा सकता है। उनकी डिमांड क्या है, सभी जगह से अच्छे अच्छे सुझाव भी आ रहे हैं।और उनकी कठिनाइयां भी ध्यान में आ रही है। बहुत सी चीजें ऐसी हैं जिन्हें हाथ के हाथ हल किया जा सकता है। बजट में कोशिश की जा रही है कि ज्यादा से ज्यादा इनको शामिल करें, ताकि हरियाणा की प्रगति अच्छी हो। हमारे लोगों को एम्पलाईमेंट ज्यादा मिले।

उन्होंने कहा कि यह एक फरीदाबाद के इंडस्ट्री की बात नहीं थी। इसमें कई और जिलों के इंडस्ट्रिलिस्ट भी थे। टोटल इंडस्ट्री की बात की गई है। सभी को किस तरह की कठिनाई है, किस तरह की कोई प्रॉब्लम आती है। पावर की परेशानी है, पानी की रीसाइक्लिंग के विषय है, सभी विषयों को मिलाकर करीब 3 घंटे बैठक चली है।जिसमें बहुत अच्छे सुझाव आए हैं।

फरीदाबाद में मदद यूनिट पर बोले कि इच्छा तो सभी की है लेकिन यह बातचीत के बाद ही आगे बढ़ा जा सकता है। मदर यूनिट को लेकर उनकी कोशिश लगातार जारी है।

सभी वर्गों के साथ हम संवाद स्थापित कर रहे हैं।सर्विस सेक्टर के साथ बातचीत हुई है, रियल स्टेट की भी बातचीत हुई है और कल हिसार में एग्रीकल्चर को लेकर बातचीत करेंगे।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने पाली गांव में है हजार्ड वेस्ट मैनेजमेंट को लेकर चल रहे एक रिसर्च सेंटर का उद्घाटन किया। इस पर उन्होंने कहा कि प्रदूषण को लेकर कंपनी काम कर रही है और यह हरियाणा में अकेला प्लांट चल रहा है और इसे पानीपत में भी लगाने की बात कंपनी से चल रही है।

हरियाणा पंजाब से आगे नशे के मामले में निकलने को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बात सही नहीं है। हम लगातार प्रयत्न कर रहे हैं। ये बात फैलाई जा रही है। और हम चाहते हैं कि कहीं भी किसी भी राज्य में नशा नहीं बढ़ना चाहिए। नशा एक सामाजिक बुराई है, इसे प्रांतों की सीमा में बांधकर आकलन नहीं करना चाहिए।

सीआईडी विवाद को लेकर मुख्यमंत्री ने सवाल को टालते हुए कहा कि नो कॉमेंट्स।

वहीं मुख्यमंत्री ने तानाजी फिल्म को हरियाणा में टैक्स फ्री करने की बात कही है।

फरीदाबाद पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल में  उद्योगपतियों के साथ फ्री बजट पर संवाद करने के बाद कहा कि बजट से पहले हम लोगों के साथ एक नई परंपरा शुरू की है। जितने भी स्टेकहोल्डर्स है, सर्विस सेक्टर, इंडस्ट्री, एग्रीकल्चर के लोगों से भी बात करेंगे। जो इनकी अपेक्षाएं हैं बजट से हरेक सेक्टर के अलग-अलग कठिनाइयां हैं।उनको कैसे हल किया जा सकता है। उनकी डिमांड क्या है, सभी जगह से अच्छे अच्छे सुझाव भी आ रहे हैं।और उनकी कठिनाइयां भी ध्यान में आ रही है। बहुत सी चीजें ऐसी हैं जिन्हें हाथ के हाथ हल किया जा सकता है। बजट में कोशिश की जा रही है कि ज्यादा से ज्यादा इनको शामिल करें, ताकि हरियाणा की प्रगति अच्छी हो। हमारे लोगों को एम्पलाईमेंट ज्यादा मिले।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक – दो बिंदु केंद्र सरकार से जुड़े हुए सुझाव भी आए हैं। वह हम केंद्र सरकार को देंगे।

उन्होंने कहा कि यह एक फरीदाबाद के इंडस्ट्री की बात नहीं थी। इसमें कई और जिलों के इंडस्ट्रिलिस्ट भी थे। टोटल इंडस्ट्री की बात की गई है। सभी को किस तरह की कठिनाई है, किस तरह की कोई प्रॉब्लम आती है। पावर की परेशानी है, पानी की रीसाइक्लिंग के विषय है, सभी विषयों को मिलाकर करीब 3 घंटे बैठक चली है।जिसमें बहुत अच्छे सुझाव आए हैं।

हरियाणा की जनता के लिए बजट में कुछ खास को लेकर उन्होंने कहा कि बजट के बाद ही बात की जाए तो ज्यादा बेहतर रहेगा।

फरीदाबाद में मदद यूनिट पर बोले कि इच्छा तो सभी की है लेकिन यह बातचीत के बाद ही आगे बढ़ा जा सकता है। मदर यूनिट को लेकर उनकी कोशिश लगातार जारी है।

सभी वर्गों के साथ हम संवाद स्थापित कर रहे हैं।सर्विस सेक्टर के साथ बातचीत हुई है, रियल स्टेट की भी बातचीत हुई है और कल हिसार में एग्रीकल्चर को लेकर बातचीत करेंगे।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने पाली गांव में है हजार्ड वेस्ट मैनेजमेंट को लेकर चल रहे एक रिसर्च सेंटर का उद्घाटन किया। इस पर उन्होंने कहा कि प्रदूषण को लेकर कंपनी काम कर रही है और यह हरियाणा में अकेला प्लांट चल रहा है और इसे पानीपत में भी लगाने की बात कंपनी से चल रही है।

हरियाणा पंजाब से आगे नशे के मामले में निकलने को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बात सही नहीं है। हम लगातार प्रयत्न कर रहे हैं। ये बात फैलाई जा रही है। और हम चाहते हैं कि कहीं भी किसी भी राज्य में नशा नहीं बढ़ना चाहिए। नशा एक सामाजिक बुराई है, इसे प्रांतों की सीमा में बांधकर आकलन नहीं करना चाहिए।

सीआईडी विवाद को लेकर मुख्यमंत्री ने सवाल को टालते हुए कहा कि नो कॉमेंट्स।

वहीं मुख्यमंत्री ने तानाजी फिल्म को हरियाणा में टैक्स फ्री करने की बात कही है।

Leave a Response