उत्तर प्रदेश

यूपी : लगातार हो रही बरसात से सरसों बर्बाद, आलू के सड़ने का खतरा

389views

लखनऊ, बारांबकी, सीतापुर समेत आसपास जिलों में बुधवार की रात से लगातार हो रही बरसात के कारण सरसों की पचास फीसदी फसल बर्बाद हो गई है। वहीं खेतों में तैयार आलू के सड़ने का खतरा बन गया है। किसानों के चेहरे पर मायूसी नजर आने लगी है।

पूरे वर्ष आलू के अच्छे दाम मिलने के कारण इस बार गेहूं का रकबा कम करके किसानों ने आलू व सरसों का रकबा बढ़ा दिया था। किसान इन दोनों फसलों के बाद मेंथा की पैदावार बाराबंकी में करता है। इस बार आलू की पैदावार काफी अच्छी होने की संभावना थी। क्योंकि जिन किसानों ने कच्चे आलू को खुलवाया है उसमें उत्पादन काफी बेहतर था। वहीं सरसों की भी फसल अच्छी मिलने की उम्मीद थी।

सीतापुर जिले में किसानों की मानें तो इस बारिश से आलू समेत सब्जी की कई फसलों में नुकसान होगा। पक चुकी सरसों में भारी नुकसान होने की आशंका है। कुछ ऐसा ही हाल टमाटर व अन्य कई सब्जियों का भी है। हल्की बारिश से मिट्टी की परत कड़ी हो जाएगी, जिससे साठा गेहूं की बोई गई फसल का जमाव भी प्रभावित होगा। कृषि विज्ञान कटिया के विशेषज्ञ डॉ. डीएस श्रीवास्तव के मुताबिक इस बारिश से गन्ना और गेहूं की फसल को नुकसान नहीं है, हां इस बारिश व वातावरण में नमी के कारण गेहूं में पीला रतुआ रोग हो सकता है। अन्य फसलों जैसे टमाटर, आलू आदि में झुलसा रोग बढ़ेगा। सरसों में किट्ट रोग भी बढ़ेगा। चना, मटर, मसूर में पत्ती झुलसा रोग लग सकता है। साठा गेहूं के जमाव पर असर पड़ेगा।

Leave a Response