दिल्ली NCR समाचार

एआई-संचालित डीप टेक वर्नाकुलर स्टार्टअप इनस्टोरीड को एसओएसवी से मिली फंडिंग

163views

निवेश इनस्टोरीड को मार्केट से जुड़े उद्देश्यों और विस्तार योजनाओं को पूरा करने में करेगा मदद

जनवरी, 2020: एआई-संचालित डीप टेक कंटेंट स्टार्टअप इनस्टोरीड ने एसओएसवी और पूरी दुनिया में स्टार्टअप्स को सीड फंडिंग उपलब्ध कराने वाले शंघाई-बेस्ड चाइनाएक्सीलेटर से निवेश प्राप्त हुआ है। इनस्टोरीड ब्रांड्स को उनके कंटेंट से ग्राहकों के दिमाग पर पड़ने वाले भावनात्मक असर के बारे में बताता है। एसओएसवी ने अब तक 940 स्टार्टअप्स में फंडिंग की है।

इनस्टोरीड का टूल ब्रांड के इमोशन कोशंट को पहचानकर तथा उनके लिए अनुकूलित सिफारिशें देकर अपने ग्राहकों की भावनात्मक जरूरतों को टारगेट करने में मदद करता है, जिससे एआई का उपयोग करके रियलटाइम में एंगेजमेंट और कंटेंट प्रोडक्टिविटी बढ़ती है। किसी भी प्लेटफ़ॉर्म पर टूल को इंटिग्रेट करने करने में मदद करने के लिए इनस्टोरीड ने वेब एप्लिकेशन और एपीआई बनाए हैं, और यह कई भाषाई यूजर्स के लिए टूल का लाइसेंस बेचता है। वर्तमान में यह टूल अंग्रेजी और हिंदी में उपलब्ध है। इनस्टोरीड के सॉल्युशन कंटेंट मार्केट के लिए हैं, जिसकी मार्केट वैल्यू 300 बिलियन डॉलर है। इनस्टोरीड की संस्थापक टीम एसओएसवी द्वारा बुलाई गई हालिया सीड-2 राउंड फंडिंग से काफी प्रभावित है। स्टार्टअप ने पहले स्वदेशी दिग्गज सीड इन्वेस्टर्स जैसे कि वेंचर कैटेलिस्ट्स और जैन एंजिल नेटवर्क, मुंबई से फंडिंग हासिल की थी।

सफल सीड फंडिंग राउंड और एसओएसवी व चाइनाएक्सीलेटर के साथ जुड़ाव पर टिप्पणी करते हुए, इनस्टोरीड के संस्थापक और सीईओ शरमीन अली ने कहा, “हम अपनी स्टार्टअप यात्रा में एसओएसवी और चाइनाएक्सीलेटर्स से मिलकर खुश हैं। पिछले कुछ वर्षों में एसओएसवी ने जो जबरदस्त नेटवर्क बनाया है, वह हमें विश्व स्तर पर अपनी पहुंच बढ़ाने में मदद करेगा। हम वैश्विक विस्तार के लिए इन फंड्स का उपयोग करेंगे। ”

उन कारकों के बारे में बात करते हुए जिन्होंने एसओएसवी चाइनाएक्सीलेटर को विशेष सामग्री के क्षेत्र में भारत के अत्यधिक इनोवेटिव और बेजोड़ स्टार्टअप में निवेश करने के लिए आकर्षित किया, एसओएसवी में जनरल पार्टनर और चाइनाएक्सीलेटर और एमओएक्स-मोबाइल ऑन्सी एक्सीलरेटर में मैनेजिंग डायरेक्टर विलियम बाओ बीन ने कहा, “मार्केटर्स सालों से ग्राहकों से बेहतर तरीके से जुड़ने और उन्हें अपनी सामग्री बेचने के लिए टेक्नोलॉजी का लाभ उठाने के रास्ते तलाश रहे हैं।”

बीन ने कहा, “हम उत्साहित हैं क्योंकि इनस्टोरीड पारंपरिक उद्योगों में कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन के लिए ऐसा ही कर रहा है और वह भी डेटा व मशीन लर्निंग का लाभ उठाते हुए।”

पूर्व-मसिगामा और कंटेंट स्पेशलिस्ट शरमीन अली और मशीन लर्निंग व एनएलपी स्पेशलिस्ट सुतांशु राज ने मिलकर इनस्टोरीड की शुरुआत की थी। इसमें इंडस्ट्री की जानकारी के साथ-साथ तकनीकी विशेषज्ञता के सही संयोजन को रखा गया था। यह टूल कंटेंट बाज़ार के लिए एंड-टू-एंड समाधान प्रदान करता है, जिससे उन्हें ब्रांड के इमोशनल कोशंट को पहचानकर उसके आधार पर विशेष भावनाओं को टारगेट करने में मदद मिलती है। इसके साथ यह टूल अनुकूलित शब्दों और वाक्यांशों की सिफारिश करता है।

इनस्टोरीड के बारे में-

इनस्टोरीड का टूल ब्रांड के इमोशनल कोशंट की पहचान करत है और अनुकूलित सिफारिशों के जरिये ग्राहकों को ब्रांड से भावनात्मक रूप से जोड़ने के लिए टारगेट करने में मदद करता है। इससे एआई का उपयोग कर रियलटाइम में एंगेजमेंट और कंटेंट प्रोडक्टिविटी में वृद्धि होती है। किसी भी प्लेटफ़ॉर्म पर टूल को इंटिग्रेट करने में मदद करने के लिए इनस्टोरीड ने वेब एप्लिकेशन और एपीआई बनाए हैं। यह कई भाषाई यूजर्स के लिए टूल का लाइसेंस बेचता है। वर्तमान में यह टूल अंग्रेजी और हिंदी में उपलब्ध है।

Leave a Response