फरीदाबादहरियाणा

फरीदाबाद पुलिस के जागरूकता अभियान के परिणामस्वरूप नागरिक समझने लगे हैं स्वयं व समाज की सुरक्षा की जिम्मेदारी: श्री ओ॰पी॰ सिंह, पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद

207views

फरीदाबाद पुलिस के जागरूकता अभियान के परिणामस्वरूप नागरिक समझने लगे हैं स्वयं व समाज की सुरक्षा की जिम्मेदारी: श्री ओ॰पी॰ सिंह, पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद

फरीदाबाद:कार्यालय पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद में जिले के गणमान्य व्यक्तियों की एक बैठक, जिसमें सराय ख्वाज से श्री राहुल, ओल्ड फरीदाबाद से श्री राधेश्याम सैनी, एन॰आई॰टी॰ 5 से सुनील तलवार, एन॰आई॰टी॰ 2 से हरेंद्र सिंह, गाँव लकड़पुर से श्री गोविंद राम, जवाहर कॉलोनी से श्री महेंद्र, राजीव कॉलोनी से श्री गिरिराज, मुजेसर से श्री जगत सिंह, चावला कॉलोनी बल्लबगढ़ से श्री रामफल, गाँव प्रहलादपुर से श्री अमरचंद सरपंच, सै॰ 8 से श्री सुनील, गाँव चांदपुर से श्री भूरा सिंह, गाँव पलवली से श्री रिंकू शर्मा, गाँव खोरी जमालपुर से हारूण अलि, सुभाष नगर बल्लबगढ़ से श्री सुभाष बंसल, सै॰ 17 से श्री जयबीर नागर, डबुआ कॉलोनी से श्री सतबीर और गाँव बड़ोली से श्री रविंद्र कुमार शामिल थेय के दौरान लोगों से बातचीत करके बताया गया कि फरीदाबाद में पुलिस द्वारा एक प्रभावशाली बीट प्रणाली के तहत बीट अधिकारियों द्वारा जनता में जागरूकता फैलाने के बाद खुद की सुरक्षा की जिम्मेदारी खुद पर समझते हुए अपने रिहायशी ऐरिया को गेट लगाकर और गार्ड़ रखकर सुरक्षित कर रहे हैं। घरों तथा गली आदि में उपयुक्त स्थान पर सी॰सी॰टी॰वी॰ कैमरे लगा रहे हैं।

श्री सुनील तलवार द्वारा रखी गई एक समस्या का समाधान बताते श्री सिंह द्वारा कहा गया कि अगर कोई बाइकर्स राह चलती लड़कियों पर अभद्र टिप्पणी करके भागता है, तो उसका फोटो उतारकर या उसका विडियों बनाकर वायरल कर देना चाहिए, ताकि उसको पकड़ा जा सके। दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 43 में जनता को भी गिरफ्तारी की शक्ति प्रदान की गई है, ताकि पुलिस और जनता के साझे प्रयास से बदमाश बच ना सकें और शरीफ आदमी को कोई परेशानी न हो।

उपस्थित सभासदों द्वारा बीट सिस्टम से जनता को होने वाले अनेक फायदों का भी जिक्र किया गया, जिस पर पुलिस आयुक्त महोदय द्वारा प्रतिक्रिया दी गई कि अगर इस प्रकार का बीट सिस्टम जनता के लिए लाभकारी है, तो इसकी चर्चा इस एक छोटी-सी संगोष्ठी में करने की बजाए इसे सोशल मीडिया में फैलाना चाहिए, ताकि यह दूसरे जिलों और सरकार तक पहुँचे तथा इसे हर जिले में लागू किया जा सके।

सभा के कुछ सदस्यों द्वारा अपने-अपने इलाके की कुछ समस्याएँ बताई गई, जिनकी संबधित थाना प्रभारी से मौके पर बात करके हल कर दिया गया। अंत में अपील की गई कि अपने बच्चों को अच्छे संस्कारों से पोषित करके एक उत्तम नागरिक बनाएँ, ताकि वे जीवन में कुमार्ग पर जाने से बचें और श्रेष्ठ समाज का निमार्ण हो। PRO

Leave a Response