दिल्ली NCR समाचारमुख्य समाचार

Delhi Assembly Election 2020: बल्लीमारान सीट पर AAP और कांग्रेस में कड़ी टक्कर, क्या बीजेपी खोल पाएगी खाता

433views

बल्लीमारान विधानसभा सीट चांदनी चौक लोकसभा सीट के अंतर्गत आती है। बल्लीमारान विधानसभा सीट कांग्रेस का गढ़ मानी जाती है। लेकिन पिछले चुनावों में आप ने कांग्रेस को काफी मतों के अंतर से हराया था। बल्लीमारान विधानसभा सीट से कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री हारुन युसूफ अबतक 5 बार विधानसभा चुनाव जीत चुके हैं। वो 1988 से लगातार कांग्रेस पार्टी में बने हुए हैं। इस सीट को 1993 में पूर्ण विधानसभा का दर्जा मिला।

2013 के विधानसभा चुनावों में भी हारुन युसूफ ने इस सीट पर कब्जा किया। लेकिन 2015 के विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी का इस सीट पर कब्जा हो गया और बीजेपी इस सीट पर खाता भी नहीं खोल पाई है। 2015 के विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी के इमरान हुसैन ने बीजेपी के श्याम लाल मोरवाल को हराया। वहीं कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री हारुन युसूफ तीसरे स्थान पर रहे थे।  2015 में हुए विधानसभा चुनाव में इस विधानसभा क्षेत्र में 1,40,772 वोटर्स थे जिसमें 78,774 पुरुष और 61,991 महिला वोटर्स शामिल थे।

इस बार भी आम आदमी पार्टी ने  इमरान हुसैन को बल्लीमारान सीट से मैदान में उतारा है। आम आदमी पार्टी ने 14 जनवरी को दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है।8 फरवरी को विधानसभा चुनाव, नतीजे 11 फरवरी को 
आपको बता दें कि अब दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे और नतीजे 11 फरवरी को आएंगे। दिल्ली में विधानसभा की 70 सीटें हैं जिसमें से 58 सामान्य श्रेणी की है जबकि 12 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं।  70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा का कार्यकाल 22 फरवरी को समाप्त होगा। पिछले विधानसभा चुनाव में दिल्ली की 70 में से 67 सीटों पर आप की जीत हुई थी. बीजेपी को सिर्फ तीन सीटें मिलीं थीं, जबकि कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला था। दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में इस बार करीब 1.46 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 80.55 लाख पुरुष और 66.35 लाख महिला वोटर हैं। सभी 70 विधानसभा सीटों पर ईवीएम का प्रयोग होगा।

Leave a Response