फरीदाबादहरियाणा

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में कोरोना के मद्देनजर सभी आवश्यक प्रबंध किए जा रहे हैं।

283views

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में कोरोना के मद्देनजर सभी आवश्यक प्रबंध किए जा रहे हैं। बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीमें प्रतिदिन डोर टू डोर सर्वे का कार्य कर रही हैं। जिला को आठ जोन में बांटा गया है तथा सभी जोन पर एक इंसीडेंट कमांडर नियुक्त किया गया है, जो अपने एरिया में सभी जरूरी एसओपी लागू करना सुनिश्चित कर रहे हैं।

मंडल आयुक्त संजय जून, उपायुक्त यशपाल व आयुक्त नगर निगम यश गर्ग मंगलवार को भारतीय चिकित्सा परिषद के अध्यक्ष डॉ. वी.के. पॉल, मुख्य सचिव हरियाणा, स्वास्थ्य विभाग हरियाणा के एसीएस राजीव अरोड़ा तथा हरियाणा, चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान विभाग के एसीएस आलोक निगम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जिला में कोविड-19 के लिए किए जा रहे प्रबंधों के बारे में जानकारी दे रहे थे। उपायुक्त ने बताया कि जिला में दो बार डोर टू डोर सर्वे कर आईएलआई के पैसेंटस की जानकारी इक्ट्ठा की गई थी तथा उन सभी के कोरोना टैस्ट करवाए गए हैं। इसी प्रकार एक आशा वर्कर प्रतिदिन 50 घरों का सर्वे करती है तथा आईएलआई के पैसेंटस के बारे में डाटा कलैक्ट करती है। उन्होंने बताया कि जिला में सात लाख से अधिक से लोगों ने अपने मोबाइल एप में आरोग्य सेतु एप इंस्टाल किया है। जिला में स्थित एंबुलेंस को एरिया वाइज जिम्मेवारी दी गई हैं। उन्होंने प्रेजेंटेंशन के माध्यम से जिला में किए गए सभी प्रबंधों का ब्यौरा प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि जिला में लोगों को कोरोना से बचाने के लिए जरूरी सावधानियों के बारे में जागरूक किया जा रहा है। सोशल मीडिया के माध्यम से निरंतर प्रत्येक सूचना जनता तक पहुंचाई जा रही है। जिला में 3 हजार 981 लोकल कमेटियां बनाई गई हैं जो निरंतर अपने एरिया में कोरोना संभावित मरीजों पर नजर रख रही हैं।

Leave a Response