फरीदाबादहरियाणा

उपायुक्त यशपाल ने बताया की केंद्र सरकार की ओर से किसानो की खुशहाली के लिए खरीफ की फसलो के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृधि की है ताकि किसान आर्थिक रूप से मजबूत हो सकें।

147views

फरीदाबाद, 2 जून। उपायुक्त यशपाल ने बताया की केंद्र सरकार की ओर से किसानो की खुशहाली के लिए खरीफ की फसलो के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृधि की है ताकि किसान आर्थिक रूप से मजबूत हो सकें।

उन्होंने बताया की सरकार ने खरीफ सीजन के 2020-21 के लिए धान सामान्य का समर्थन मूल्य 1868 रूपये प्रति क्विंटल तय किया है जो की गत सीजन के दौरान 1815 रूपये प्रति क्विंटल था। इसी प्रकार धान ग्रेड ए का समर्थन मूल्य 1888 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है जोकि गत सीजन में 1835 रूपये प्रति क्विंटल था। बाजरा फसल का समर्थन मूल्य 2150 रूपये प्रति क्विंटल तय किया है जोकि गत सीजन में 2000 रूपये प्रति क्विंटल था। ज्वार फसल का समर्थन मूल्य 2620 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है जोकि गत सीजन में 2550 रूपये प्रति क्विंटल था।

उन्होंने बताया की मक्का का समर्थन मूल्य इस सीजन में 1850 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है जोकि गत सीजन में 1760 रूपये प्रति क्विंटल था। तथा अरहर का समर्थन मूल्य प्रति क्विंटल 6000 रूपये तय किया गया है जोकि गत सीजन में 5800 रूपये प्रति क्विंटल था। इसी प्रकार उडद फसल का समर्थन मूल्य 6000 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है जोकि गत सीजन में 5700 रूपये प्रति क्विंटल था। मूंग फसल का समर्थन मूल्य 7196 रूपये प्रति क्विंटल है जोकि गत सीजन में 7050 रूपये प्रति क्विंटल था। कपास माध्यम रेशे का समर्थन मूल्य 5515 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है जोकि गत सीजन में 5255 रूपये प्रति क्विंटल था। तथा कपास लम्बा रेशा का न्यूनतम समर्थन मूल्य 5825 रूपये तय किया गया है जोकि गत सीजन के दौरान 5550 रूपये प्रति क्विंटल था।

उन्होंने बताया की मूंगफली का इस सीजन में प्रति क्विंटल 5275 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है जोकि गत सीजन के दौरान 5090 प्रति क्विंटल था। सोयाबीन का इस सीजन में 3880 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है जोकि गत सीजन के दौरान 3710 रूपये प्रति क्विंटल था। इसी प्रकार बाघ के बीज का इस सीजन में 6695 रूपये प्रति क्विंटल था जोकि गत सीजन में 5940 रूपये प्रति क्विंटल था।

Leave a Response