फरीदाबाद

पुलिस महानिदेशक श्री मनोज यादव ने किया एशियन हॉस्पिटल का दौरा, घायल एएसआई का जाना हाल।

205views

 

*घायल एएसआई को दी जाएगी हर संभव मदद, अस्पताल का पूरा खर्चा उठाएगी पुलिस।*

*पुलिस सिखाएगी बदमाशों को सबक, दिया जाएगा मुंहतोड़ जवाब:-डीजीपी हरियाणा*

*मुठभेड़ करने वाली टीम को दिया जाएगा 5 लाख का इनाम।*

*पाली निवासी अजीत को भी दिया जाएगा 50,000 का इनाम:- पुलिस आयुक्त*

*घायल एएसआई जितेंद्र को अस्पताल पहुंचाने वाले पुलिसकर्मियों को भी किया जाएगा इनाम देकर सम्मानित।*

माननीय पुलिस महानिदेशक हरियाणा ने आज एशियन हॉस्पिटल का दौरा कर बदमाश की गोली से घायल ए एस आई जितेंद्र का हालचाल जाना है।

उन्होंने एएसआई जितेंद्र की पीठ थपथपाते हुए उन्हें पुलिस की तरफ से हर संभव मदद का वादा किया।

पुलिस महानिदेशक श्री मनोज यादव ने कहा कि इस परिस्थिति में आप व आपके परिवार की मदद के लिए आपके साथ पूरा पुलिस विभाग है।

श्रीमान डीजीपी ने कहा कि एएसआई जितेंद्र के इलाज का पूरा खर्चा पुलिस विभाग उठाएगा।

डीजीपी हरियाणा ने कहा कि बदमाशों के साथ मुठभेड़ कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली टीम को 5 लाख रुपए का इनाम देगे और 5 लारव श्रीमान पुलिस आयुक्त केके राव की तरफ से देकर सम्मानित किया जाएगा।

श्री मनोज यादव ने कहा कि बदमाशों को सबक सिखाने के लिए पुलिस तैयार है बदमाशों को दिया जाए मुंहतोड़ जवाब।

वहां मौजूद श्रीमान पुलिस आयुक्त श्री केके राव ने कहां की पाली निवासी अजीत जिसकी बदमाशों ने गाड़ी छीनी थी जिस बारे में अजीत ने तुरंत पुलिस को सूचना दी थी जिसकी वजह से बदमाशों की भागने की दिशा का पता लगा था, को इनाम देकर सम्मानित किया जाएगा।

गंभीर रूप से घायल एएसआई जितेंद्र को अस्पताल पहुंचाने वाले एसआई गोपाल वह ईएएसआई रामवीर को इनाम देकर सम्मानित किया जाएगा।

घायल एएसआई की हाथ की Axillary artery नस फट जाने से पैर में से नस निकाल कर रिपेयर कर घायल पुलिसकर्मी की जान बचाने के लिए एशियन हॉस्पिटल का माननीय डीजीपी श्री मनोज यादव ने धन्यवाद किया है।

पुलिस आयुक्त महोदय ने घायल पुलिसकर्मी के सहयोग के लिए एसएचओ एनआईटी एवं पुलिस चौकी 21 D इंचार्ज को आदेश दिए हैं।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि घायल एएसआई जितेंद्र ने वर्ष 1992 में हरियाणा पुलिस ज्वाइन की थी।
घायल पुलिसकर्मी अपने परिवार सहित गुडगांव पुलिस लाइन में रहता है।एएसआई जितेंद्र फिलहाल गुड़गांव पुलिस की एस्कॉर्ट में तैनात था

Leave a Response