फरीदाबाद

फ़रीदाबाद में भू माफिया अवैध कॉलोनी काटकर कर रहे काली कमाई डीटीपी इंफोर्समेंट ने मौके पर पहुंचकर कालोनियों को ढहाया

213views

फ़रीदाबाद में भू माफिया अवैध कॉलोनी काटकर कर रहे काली कमाई डीटीपी इंफोर्समेंट ने मौके पर पहुंचकर कालोनियों को ढहाया फ़रीदाबाद में भू माफिया भोले भाले लोगों को अपने जाल में फंसाकर धड़ल्ले से अवैध कॉलोनियों को काटकर मोटी और कमाई कर रहे हैं। बता दें कि फ़रीदाबाद में चारों ओर भू माफियाओं का बोलबाला है जहां पर भूमाफिया अपनी काली कमाई करने के लिए भोली-भाली जनता को सस्ता मकान व प्लॉट देने के लालच में अपने जाल में फंसा लेते हैं और उन्हें जमीन बेचकर फरार हो जाते हैं। जिसका खामियाजा जमीन खरीदने वाले लोगों को ही भुगतना पड़ता है ऐसा ही एक मामला गोंच्छी और सरूरपुर के बीच में बन रही कॉलोनी का सामने आया है। जहां पर डीटीपी इनफॉर्मेंट की टीम ने अवैध रूप से बन रही इस कॉलोनी में दर्जनों मकान और बाउंड्रीवाल को ढहा दिया। इस मौके पर डीटीपी इंफोर्समेन्ट अधिकारी नरेश कुमार ने कहा कि किसी भी सूरत में अवैध कॉलोनियों को पनपने नहीं दिया जाएगा। डीटीपी इनफोर्समेंट की टीम का ये पीला पंजा सरूरपुर और गोंच्छी के बीच में बन रही अवैध कॉलोनियों को ढहाता दिखाई दे रहा है। बता दें कि इससे पहले यहां पर उपजाऊ खेत होते थे जहां पर अच्छी पैदावार होती थी लेकिन भूमाफिया फरीदाबाद में इतने हावी होते जा रहे हैं कि वह उपजाऊ जमीन को बेचकर अवैध कॉलोनियां बसा रहे ऐसा नहीं कि यहां पर अवैध कॉलोनिया नहीं बसी हुई है यहां दर्जनों से ज्यादा अवैध कॉलोनियां बस चुकी है। बता दें कि ऐसा कभी संभव नहीं हो सकता की उन कॉलोनियों को बसने में प्रशासन ने मिलीभगत और लापरवाही न की हो ।इन कॉलोनियों के बसने के पीछे चाहे कोई भी वजह रही हो लेकिन जब कॉलोनियां टूटती है तो नुकसान केवल खरीदार को ही होता है बेचने वाले प्रॉपर्टी डीलर इन्हें बेचकर मोटी और काली कमाई कर रफूचक्कर हो जाते हैं । वहीं इस अवैध कलोनी में तोड़फोड़ करने पहुंचे डीटीपी एन्फोर्समेंट अधिकारी नरेश कुमार ने बताया कि वह इससे पहले भी यहां पर तोड़फोड़ कर कई लोगों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करा चुके हैं और उनकी इस कॉलोनी पर पैनी नजर बनी हुई है इसी को लेकर आज फिर दोबारा यहां पर तोड़फोड़ की जा रही है उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में इस कॉलोनी को बसने नहीं दिया जाएगा । नरेश कुमार डीटीपी। वही यहां पर जमीन खरीद कर मकान बना रहे कि युवक से बात की गई तो उसने बताया कि उसे नहीं पता कि आखिर में उनके यहां पर तोड़फोड़ क्यों की गई है जब उसने इसके बारे में प्रॉपर्टी डीलर से बात की तो उसने उन्हें फोन पर संतोषजनक जवाब नहीं दिया और केवल कल बात करने की बात कहकर फोन काट दिया। किशन पीड़ित वहीं जब इस बारे में वहाँ उपजाऊ भूमि पर अवैध कॉलोनी काट रहे कलोनाइजरों से बात की गई तो उन्होंने इस मामले में कुछ भी कहने से मना कर दिया। भू माफिया अवैध कॉलोनी काटकर कर रहे काली कमाई डीटीपी इंफोर्समेंट ने मौके पर पहुंचकर कालोनियों को ढहाया। फ़रीदाबाद में भू माफिया भोले भाले लोगों को अपने जाल में फंसाकर धड़ल्ले से अवैध कॉलोनियों को काटकर मोटी और कमाई कर रहे हैं। बता दें कि फ़रीदाबाद में चारों ओर भू माफियाओं का बोलबाला है जहां पर भूमाफिया अपनी काली कमाई करने के लिए भोली-भाली जनता को सस्ता मकान व प्लॉट देने के लालच में अपने जाल में फंसा लेते हैं और उन्हें जमीन बेचकर फरार हो जाते हैं। जिसका खामियाजा जमीन खरीदने वाले लोगों को ही भुगतना पड़ता है ऐसा ही एक मामला गोंच्छी और सरूरपुर के बीच में बन रही कॉलोनी का सामने आया है। जहां पर डीटीपी इनफॉर्मेंट की टीम ने अवैध रूप से बन रही इस कॉलोनी में दर्जनों मकान और बाउंड्रीवाल को ढहा दिया। इस मौके पर डीटीपी इंफोर्समेन्ट अधिकारी नरेश कुमार ने कहा कि किसी भी सूरत में अवैध कॉलोनियों को पनपने नहीं दिया जाएगा।डीटीपी इनफोर्समेंट की टीम का ये पीला पंजा सरूरपुर और गोंच्छी के बीच में बन रही अवैध कॉलोनियों को ढहाता दिखाई दे रहा है। बता दें कि इससे पहले यहां पर उपजाऊ खेत होते थे जहां पर अच्छी पैदावार होती थी लेकिन भूमाफिया फरीदाबाद में इतने हावी होते जा रहे हैं कि वह उपजाऊ जमीन को बेचकर अवैध कॉलोनियां बसा रहे ऐसा नहीं कि यहां पर अवैध कॉलोनिया नहीं बसी हुई है यहां दर्जनों से ज्यादा अवैध कॉलोनियां बस चुकी है। बता दें कि ऐसा कभी संभव नहीं हो सकता की उन कॉलोनियों को बसने में प्रशासन ने मिलीभगत और लापरवाही न की हो ।इन कॉलोनियों के बसने के पीछे चाहे कोई भी वजह रही हो लेकिन जब कॉलोनियां टूटती है तो नुकसान केवल खरीदार को ही होता है बेचने वाले प्रॉपर्टी डीलर इन्हें बेचकर मोटी और काली कमाई कर रफूचक्कर हो जाते हैं । वहीं इस अवैध कलोनी में तोड़फोड़ करने पहुंचे डीटीपी एन्फोर्समेंट अधिकारी नरेश कुमार ने बताया कि वह इससे पहले भी यहां पर तोड़फोड़ कर कई लोगों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करा चुके हैं और उनकी इस कॉलोनी पर पैनी नजर बनी हुई है इसी को लेकर आज फिर दोबारा यहां पर तोड़फोड़ की जा रही है उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में इस कॉलोनी को बसने नहीं दिया जाएगा । नरेश कुमार डीटीपी। वही यहां पर जमीन खरीद कर मकान बना रहे कि युवक से बात की गई तो उसने बताया कि उसे नहीं पता कि आखिर में उनके यहां पर तोड़फोड़ क्यों की गई है जब उसने इसके बारे में प्रॉपर्टी डीलर से बात की तो उसने उन्हें फोन पर संतोषजनक जवाब नहीं दिया और केवल कल बात करने की बात कहकर फोन काट दिया।  किशन पीड़ित वहीं जब इस बारे में वहाँ उपजाऊ भूमि पर अवैध कॉलोनी काट रहे कलोनाइजरों से बात की गई तो उन्होंने इस मामले में कुछ भी कहने से मना कर दिया।

Leave a Response