फरीदाबादहरियाणा

स्थानीय जिला रेडक्रास सोसायटी के कार्यालय में टारगेटिड इंटरवेशन प्रोजेक्ट के तहत अंतर्राष्ट्रीय नशामुक्ति बोध दिवस मनाया गया।

253views

स्थानीय जिला रेडक्रास सोसायटी के कार्यालय में टारगेटिड इंटरवेशन प्रोजेक्ट के तहत अंतर्राष्ट्रीय नशामुक्ति बोध दिवस मनाया गया। इसकी अध्यक्षता जिला रेडक्रास सोसायटी के सचिव विकास कुमार ने की। रेडक्रास सोसायटी के सचिव ने उपस्थित युवाओं को कोविड-19 के बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार जागरूक किया।

उन्होंने कहा कि एक दूसरे व्यक्ति से दो गज की दूरी बनाए रखें। जरूरी कार्य से ही घर से बाहर निकले और मुंह पर मास्क तथा हाथों में ग्लव्स पहन कर बाहर जाए। फस्टेड ट्रेनिंग के लिए आए प्रशिक्षुओं को संबोधित करते हुए कहा कि नशा नाश की जड़ है। नशा सामाजिक बुराइयों की जड़ है, इससे बचाव बारे विशेषकर युवाओं और अन्य लोगों में जागरूकता लाना ही सबसे सफल कार्य है। शरीर में नशे की पूर्ति के लिए नशा करने वाले व्यक्ति अपने माता-पिता, पत्नी तथा बच्चों के साथ बुरा व्यवहार करते है। समाज में हर नागरिक को शपथ लेनी चाहिए कि वो नशे जैसी घिनौनी बुराई को खत्म करने में अपनी भागीदारी अवश्य सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि आज देश के अनेक युवा नशे के आदी हो रहे हैं। नशे से एचआईवी, एड्स, हैपेटाइटिस सी, टीबी जैसी भयानक बीमारियों से ग्रस्त हो जाते हैं। टीआई प्रोजेक्ट सुशील कुमार ने बताया कि नशामुक्ति केंद्रों से नशे के आदी कुछ को तो ठीक किया जा सकता है, परन्तु समाज से खत्म तो केवल सामाजिक जागरूकता में प्रत्येक भारतीय युवा की भागीदारी से ही किया जा सकता है। इस अवसर पर डीओसी सरोज बाला, रोहतास कुमार, सुमन, रूचिका, सोनिका नागर सहित उपस्थित थे।

Leave a Response