फरीदाबादहरियाणा

महात्मा गांधी की प्रतिमा पर फूल अर्पित कर दिलाई भारत छोड़ो आंदोलन’ की याद

277views

कांग्रेसियों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा पर फूल अर्पित कर दिलाई भारत छोड़ो आंदोलन’ की याद

फरीदाबाद : हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक आनंद कौशिक के अनुज बलजीत कौशिक ने आज गाँधी कॉलोनी कुष्ठ आश्रम पर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर फूल माला चढ़ाकर गाँधी जी द्वारा चलाए गए भारत छोड़ो आंदोलन’ की याद दिलाई। इस अवसर पर बलजीत कौशिक कहाकि महात्मा गांधी ने अंग्रेजों को भारत से निकालने के लिए कई अहिंसक आंदोलनों का नेतृत्व किया था। आठ अगस्त 1942 को उन्होंने ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ की शुरुआत की थी। उन्होंने कहाकि ‘राष्‍ट्रपिता ने ‘अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ भारत छोड़ो आंदोलन का आह्वान कर स्वतंत्रता संग्राम को एक नई दिशा प्रदान की।’ उन्‍होंने कहा कि ‘मैं देश की स्वतंत्रता के लिए लड़ाई लड़ने वाले उन महान वीरों को सलाम करता हूं।
श्री कौशिक ने कहाकि अंग्रेजों ने वादा किया था कि वे दूसरे विश्‍वयुद्ध में भारत की मदद लेने के बाद देश को आजाद कर देंगे। मगर उन्‍होंने वादाखिलाफी की तो 8 अगस्‍त को भारतीय राष्‍ट्रीय कांग्रेस के मुंबई अधिवेशन में ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ का प्रस्‍ताव पारित हुआ था। अंग्रेजों की तरफ से इसकी तीखी प्रतिक्रिया हुई थी और गांधी जी समेत लगभग सभी बड़े नेता गिरफ्तार कर लिए गए थे,और नौ अगस्‍त 1942 को लगभग 60 हजार लोगों को जेल में डाल दिया गया था और कई हजार मारे गए थे।मारे गए लोगों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे। बंगाल के तामलुक में 73 वर्षीय मतंगिनी हाजरा, असम के गोहपुर में 13 वर्षीय कनकलता बरुआ, बिहार के पटना में सात युवा छात्र व सैकड़ों अन्य प्रदर्शन में भाग लेने के दौरान गोली लगने से मारे गए। देश के कई राज्य जैसे उत्तर प्रदेश में बलिया, बंगाल में तामलूक, महाराष्ट्र में सतारा, कर्नाटक में धारवाड़ और उड़ीसा में तलचर व बालासोर,ब्रिटिश शासन से मुक्त हो गए और वहां के लोगों ने स्वयं की सरकार का गठन किया।जय प्रकाश नारायण,अरुणा आसफ अली, एस.एम.जोशी.राम मनोहर लोहिया और कई अन्य नेताओं ने लगभग पूरे युद्ध काल के दौरान क्रांतिकारी गतिविधियों का आयोजन किया था।युद्ध के साल लोगों के लिए भयानक संघर्ष के दिन थे।ब्रिटिश सेना और पुलिस के दमन के कारण पैदा गरीबी के अलावा बंगाल में गंभीर अकाल पड़ा जिसमे लगभग तीस लाख लोग मरे गए।सरकार ने भूख से मर रहे लोगों को राहत पहुँचाने में बहुत कम रूचि दिखाई थी ।
इस मौके पर डा. सौरभ जिला अध्यक्ष ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस, गौरव ढींगरा स्टेट कोऑर्डिनेटर हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी, इशांत कथूरिया जनरल सेक्रेट्री यूथ कांग्रेस, रामप्रवेश, महेश बैंसला, मोहित बैंसला, हरीश भड़ाना,विकास चंदीला, अंकित ठाकुर, सोनू, भूरा, अभिषेक बैसला आदि लोग मौजूद थे।

Leave a Response