सोनीपतहरियाणा

राष्ट्रीय राजमार्ग पर व्यावसायिक वाहनों की बनवायें अलग लेन: उपायुक्त पूनिया

279views

राष्ट्रीय राजमार्ग पर व्यावसायिक वाहनों की बनवायें अलग लेन: उपायुक्त पूनिया
– आश्रय गृहों में ठहराये प्रवासियों को न होने पाये किसी प्रकार की समस्या
– उपायुक्त ने बसों के माध्यम से प्रवासियों को भेजने की व्यवस्था का लिया जायजा
सोनीपत, 21 मई। उपायुक्त श्यामलाल पूनिया ने कुंडली बार्डर का दौरा करते हुए पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-44 पर व्यावसायिक वाहनों की अलग से लेन बनवाई जाए, ताकि मार्ग पर वाहनों की जांच के दौरान किसी भी प्रकार की मार्ग अवरूद्ध होने की समस्या न हो। उन्होंने कहा कि वाहनों की आवाजाही को जाम रहित बनाने के लिए विशेष रूप से प्रयास किये जायें।
उपायुक्त पूनिया ने गुरूवार की सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर सोनीपत-दिल्ली बार्ड का विशेष रूप से निरीक्षण किया। उन्होंने कुंडली/सिंघू बार्डर पर खड़े रहकर स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर बार्डर पर वाहनों के जाम की समस्या को दूर करने की आवश्यकता है। अन्य वाहनों की पुलिस जांच के दौरान व्यावसायिक वाहनों की भी कतार लगने लगती है। इससे मार्ग अवरूद्ध होने की स्थिति पैदा होती है, जिसे दूर करने के लिए व्यावसायिक वाहनों की अलग लेन बनवाई जाए।
पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों को भी उपायुक्त ने इस दौरान विशेष रूप से सावधानी बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वाहनों की जांच करते समय संबंधित कागजों को हाथों में लेने से बचें। जांच के लिए विशेष तरीके अपनायें ताकि कागजों से किसी भी प्रकार के वायरस के फैलने की शंकाओं पर विराम लग सके। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी-कर्मचारी मास्क व गलव्स का प्रयोग करें। नियमित रूप से सैनेटाईजर का उपयोग करें तथा अपने हाथों को भी बार-बार साबुन से धोते रहें।
उपायुक्त ने सब्जी वाहनों की भी जांच के विशेष निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सब्जी बेचने अथवा खरीदने वालों की जांच अवश्य की जाए। इसके लिए उन्होंने अलग से कमेटी गठित करने के भी निर्देश दिए। तदोपरांत उन्होंने खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय राई में बनाये गये आश्रय गृह का निरीक्षण किया। उन्होंने ड्यूटी पर मौजूद संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि आश्रय गृह में ठहराये प्रवासियों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए।
उपायुक्त श्यामलाल पूनिया ने एथनिक इंडिया राई का भी दौरा किया, जहां से प्रवासियों को बसों में भेजने की व्यवस्था का कार्य जारी है। उन्होंने नोडल अधिकारी जिला परिषद के सीईओ डा. संजय कुमार से इस संदर्भ में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि बसों में प्रवासियों को भेजने से पहले उनकी मेडिकल जांच अवश्य कराई जाए। प्रवासियों को भोजन करवाकर ही भेजा जाए। उन्होंने प्रवासियों से भी सीधे रू-ब-रू होते हुए उनकी सुनवाई की। साथ ही उन्होंने प्रवासियों को भरोसा दिलाया कि उन्हें उनके घर भेजने की बेहतरीन योजना बनाई गई है, जिसके माध्यम से हजारों प्रवासियों को वापस उनके घर भेजा जा चुका है। शेष पंजीकृत प्रवासियों को भी सुनियोजित ढंग से वापस भेजा जा रहा है। इसके अलावा उन्होंने मोतीलाल नेहरू स्कूल ऑफ स्पोर्टस राई (एमएनएसएस) का भी दौरा किया।
इस अवसर पर मौजूद एसडीएम आशुतोष राजन ने उपायुक्त को भरोसा दिलाया कि उनके सभी निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रवासियों को भेजने से पहले उनकी मेडिकल जांच व भोजन की व्यवस्था की जाती है। आश्रय गृहों में भी हर प्रकार की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा जा रहा है।
प्रेस नोट- डीआईपीआरओ स्पे. 6
जिला सूचना एवं जन संपर्क अधिकारी, सोनीपत।
मो. 9466323600

Leave a Response