archivedelhi

दिल्ली NCR समाचार

ऑस्ट्रेलिया vs भारत : पेटीएम फर्स्ट गेम्स फैंटेसी भविष्यवाणी: Indian T20 League

ऑस्ट्रेलिया vs भारत : पेटीएम फर्स्ट गेम्स फैंटेसी भविष्यवाणी: Indian T20 League यह ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत का...
दिल्ली NCR समाचार

सुपर स्मेली ने हेयर केयर प्रोडक्ट्स में प्रवेश किया और दो नई खुशबू लॉन्च की

सुपर स्मेली ने हेयर केयर प्रोडक्ट्स में प्रवेश किया और दो नई खुशबू लॉन्च की टीन और ट्वीन के लिए...
दिल्ली NCR समाचार

ट्रेडइंडिया ने फेस्टिव सीजन में चॉकलेट की होलसेल डिमांड में 120% माह-दर-माह बढ़ोतरी देखी

ट्रेडइंडिया ने फेस्टिव सीजन में चॉकलेट की होलसेल डिमांड में 120% माह-दर-माह बढ़ोतरी देखी ● प्रमुख बी2बी मार्केटप्लेस ने कोविड-एसेंशियल...
दिल्ली NCR समाचार

महिंद्रा थॉर या कावासाकी निंजा, आपको फिटनेस गिफ्ट में क्या चाहिए

महिंद्रा थॉर या कावासाकी निंजा, आपको फिटनेस गिफ्ट में क्या चाहिए Fittr ने ट्रांसफॉर्मेशन चैलेंज के ताजा संस्करण के लिए इनाम की घोषणा की   फिटनेस कॉम्पिटिशन के अपने ताजा संस्करण में Fittr को दुनियाभर से 15000 एंट्री की उम्मीद महिंद्रा थार के ग्रैंड प्राइज के अलावा पहले स्थान के लिए कावासाकी निंजा 650 या एक एपल किट और 50 रनर-अप को हीरो साइकल मिलेंगी नई दिल्ली, सितंबर, 2020: लोगों को लगातार फिट रहने के लिए प्रोत्साहित करने के प्रयास में पुणे आधारित फिटनेस स्टार्टअप Fittr ट्रांसफॉर्मेशन चैलेंज का नया एडिशन (टीसी) सीरीज 11 लाने जा रहा है। 12 सप्ताह का यह ऑनलाइन चैलेंज 1 सितंबर, 2020 से शुरू होगा, जिसके लिए दुनियाभर से 7 सितंबर तक रजिस्ट्रेशन स्वीकार किए जाएंगे। टीसी 11 के विजेता को कावासाकी निंजा 650 या एक एपल किट दी जाएगी। इसके अलावा हीरो साइकल्स लिमिटेड से स्पॉन्सर्ड 50 रनर अप को हीरो साइकल की जाएगी। Fittr 9वें, 10वें और 11वें संस्करण से 10 चैलेंजर का चयन करेगा। शीर्ष 30 भागीदारों में से किसी एक को उनकी ट्रांसफॉर्मेशन यात्रा और निरंतरता के लिए महिंद्रा थॉर दी जाएगी। ट्रांसफॉर्मेशन चैलेंज में विशेष ऑफरिंग के लिए पहचाने जाने वाले Fittr ने ट्रांसफॉर्मेशन चैलेंज के 9वें एडिशन में शीर्ष पुरुस्कार के रूप में हार्ले डेविडसन 750 दी थी। प्रत्येक सीरीज के साथ इनाम बेहतर होते चले गए हैं। इस चैलेंज के अंतर्गत प्रतिभागियों को 12 सप्ताह तक प्रत्येक सप्ताह अपना ट्रांसफॉर्मेशन स्पष्ट दिखाते हुए वीडियो अपलोड करना होगा। इसका सोच का लक्ष्य प्रतिभागियों को उनकी पिछली यात्रा के आधार पर परखना है। इसमें मशल मास, फैट लॉस, और पिछले ट्रांसफॉर्मेशन चैलेंज के आधार पर निरंतरता को परखा जाएगा। जो इन सभी मानकों पर खरा उतरेगा वो विजेता बनेगा। टीसी 11 के बारे में बात करते हुए Fittr के सीईओ और संस्थापक जितेंद्र चौकसे ने कहा कि “पूरी दुनिया इस समय महामारी के रूप में एक बड़ी समस्या से गुजर रही है। इस प्रकार के महत्वपूर्ण समय में, यह जरूरी है कि सकारात्मक रहा जाए और ट्रांसफॉर्मेशन चैलेंज के रूप में Fittr का यही लक्ष्य है। हम लोगों को चैलेंज के माध्यम से निरंतर प्रोत्साहित करते रहते हैं। हम इसमें एक साथ हैं और जो सबसे बेहतर कार्य हम कर सकते हैं, वह यह है कि अपनी स्वास्थ्य पर निवेश करें।” FITTR को जितेंद्र चौकसे द्वारा एक व्हाट्सएप ग्रुप के रूप में शुरू किया गया था। इसका लक्ष्य परिवार और दोस्तों को मेंटरशिप, मुख्य तौर पर वीडियो और छोट सुझावों के माध्यम से फिटनेस बेहतर बनाने में मदद करना है। जल्द ही यह ग्रुप व्हाट्स एप से फेसबुक में पहुंचा। 2016 में यह ग्रुप पूरी तरह से ऑनलाइन हेल्थ व फिटनेस कोचिंग पोर्टल में तब्दील हो गया। इस फिटनेस स्टार्टअप को बॉलीवुड के जाने-माने एक्टर सुनील शेट्‌टी का सहयोग प्राप्त हुआ, जिसकी मदद से FITTR अपने विजन को देसी और विदेशी ग्राहकों तक पहुंचा पाए। प्री-सीरीज से पहले सीक्युआ कैपिटल से फंडिंग हासिल करने के बाद Fittr हाल ही में सुर्खियों में रहा है, जो सिक्युआ के भारत और दक्षिण पूर्व एशिया के विस्तार प्रोग्राम का बड़ा हिस्सा बना है।...
दिल्ली NCR समाचार

टीसीएल ने आईपीएल की सनराइजर्स हैदराबाद से हाथ मिलाया

टीसीएल ने आईपीएल की सनराइजर्स हैदराबाद से हाथ मिलाया: देशभर में खेलों को बढ़ावा देने का लक्ष्य   इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के लिए टीम का प्रायोजक बना, इसका उद्देश्य पूरे देश में क्रिकेट के जुनून को बढ़ाना और साथ ही खेलप्रेमियों के व्यापक वर्ग का मनोरंजन करना है    09 सितंबर, 2020: ग्लोबल टॉप-2 टेलिविज़न ब्रांड और प्रमुख कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी टीसीएल ने सनराइजर्स हैदराबाद के साथ सितंबर में शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 के लिए उसके ऑफिशियल स्पॉन्सर के तौर पर अपनी साझेदारी की घोषणा की है। इस रणनीतिक साझेदारी का व्यापक लक्ष्य टीसीएल की इंडिया-फर्स्ट अप्रौच और देश के व्यापक और तेजी से बढ़ते कस्टमर बेस के लिए अत्याधुनिक, इनोवेटिव मनोरंजन अनुभव प्रदान करने के प्रति उसकी प्रतिबद्धता को साबित करना है। टीसीएल की वृद्धि की बड़ी वजह तिरुपति, आंध्र प्रदेश में एलईडी पैनल कारखाना भी है जिसका लक्ष्य 2020 के अंत तक ग्लोबल मैन्युफैक्चरिंग हब बनना है। 2400 करोड़ का यह कारखाना सालाना 8 मिलियन टीवी स्क्रीन पैनल और 30 मिलियन मोबाइल स्क्रीन बनाने में सक्षम है। इस कारखाने का शुभारंभ टीसीएल के भारत फर्स्ट अप्रौच को भी रेखांकित करता है, जो भारतीय कस्टमर्स के लिए किफायती स्मार्ट होम अप्लायंसेस बनाता है और उनकी पेशकश करता है। यह अप्लायंसेस अत्याधुनिक तकनीक के साथ मनोरंजन सॉल्युशन के तौर पर हमेशा उपलब्ध रहते हैं। मेड इन इंडिया फिलोसॉफी ने ब्रांड को स्मार्ट टीवी सेग्मेंट में उभरते नेताओं में से एक के रूप में अपनी स्थिति को मजबूत करने में मदद की है। पार्टनरशिप पर बात करते हुए टीसीएल इंडिया के जनरल मैनेजर माइक चेन ने कहा, “सनराइजर्स हैदराबाद एक प्रॉमिसिंग टीम है जिसने अपने विशाल फैन-बेस के बीच क्रिकेट में सफलता और लोकप्रियता के लिहाज से ऊपर की ओर मूवमेंट किया है। टीम की प्रभावशाली और तेजी से बढ़ती पहुंच का लाभ उठाते हुए टीसीएल विजिबिलिटी को विस्तार देने और देशभर में अपने नेतृत्व की स्थिति को मजबूती देने में सक्षम होगा। इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि रणनीतिक साझेदारी हमें पूरे भारत में क्रिकेट के लिए जुनून का लाभ उठाकर देशभर में खेलों को बढ़ावा देने का एक और मौका देती है। ” इस भागीदारी पर टिप्पणी करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद के सीईओ, के. षणमुघम ने कहा, “हम इंडियन प्रीमियर लीग के आगामी सत्र के लिए टीसीएल के साथ पार्टनरशिप को लेकर बहुत उत्साहित हैं। टीसीएल एक जाना-पहचाना ब्रांड है और उनके साथ हमारे अलाइमेंट में हम मजबूती देखते हैं। अपनी साझेदारी के साथ, हम प्रशंसकों के लिए शानदार क्रिकेट क्षण बनाने और हर साल की तरह ठोस प्रदर्शन करने के लिए तत्पर हैं। ” टीसीएल ने हाल ही में अपने 8K और 4K QLED टीवी मॉडल लॉन्च किए हैं, जो क्वांटम डॉट टेक्नोलॉजी, हैंड्स-फ्री वॉयस कंट्रोल, पॉप-अप कैमरा, आईमैक्स एनहैंस्ड, और डॉल्बी विजन एंड एटमोस जैसे अत्याधुनिक फीचर्स का दावा करते हैं। सनराइजर्स हैदराबाद के साथ साझेदारी और उसके साथ-साथ अत्याधुनिक नए लॉन्च भारत में टीसीएल के डोमेन लीडरशिप को सामने लाते हैं। टीम के साथ मिलकर ब्रांड को ब्रांड एक्टिवेशंस के जरिये इस खेल के प्रति देश के सामूहिक प्रेम का लाभ उठाते हुए कस्टमर के साथ रिश्तों को गहरा बनाने में मदद करेगा।   मीडिया पूछताछ: रिमो बोस l rimobose@tcl.com l +91 9686672286  ...
दिल्ली NCR समाचार

सितंबर 2020 में खरीदने के लिए टॉप 10 स्टॉक्स

सितंबर 2020 में खरीदने के लिए टॉप 10 स्टॉक्स लगातार तीसरे महीने निफ्टी हरे रंग में बंद हुआ है और एफआईआई फ्लो बढ़ने से अगस्त में बेंचमार्क निफ्टी सूचकांक 2.8% की बढ़त के साथ बंद हुआ। इस महीने एफआईआई फ्लो 47,080 करोड़ रहा जो कैलेंडर वर्ष में सबसे अधिक है। आर्थिक स्थितियों में निरंतर सुधार के साथ ही वित्तवर्ष 2021 की पहली तिमाही में आए अच्छे नतीजों ने बाजार को बेहतर बनाने में समर्थन किया। ग्लोबल मार्केट्स ने मार्च में एसएंडपी 500 के निचले स्तर से उठकर एसएंडपी 500 के ऊंचे स्तर तक तेजी से रिकवरी की है, जो महीने के 3,500 के स्तर पर बंद हुआ कि इसके जनवरी के क्लोजिंग लेवल से 8.5% अधिक था। मार्च के निचले स्तर से रैली का प्रारंभिक चरण फेडरल रिजर्व के स्टिमुलस उपायों से प्रेरित था, वहीं जुलाई से रैली का दूसरा चरण वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार से प्रेरित था। अगस्त में भारतीय अर्थव्यवस्था में भी सुधार जारी रहा जो ऑटो बिक्री और पीएमआई नंबर जैसे हाई-फ्रिक्वेंसी डेटा में भी दिखा है। ऑटो कंपनियों ने मारुति सुजुकी के नेतृत्व अगस्त में घरेलू बिक्री में 17.1% की वृद्धि रिपोर्ट की जो कि जुलाई में 1.1% की वृद्धि थी। वहीं, हीरो मोटोकॉर्प ने मोटरसाइकिल की बिक्री में 6.5% की वृद्धि दर्ज की। अगस्त के लिए मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई ने भी निरंतर सुधार की ओर इशारा किया क्योंकि यह जुलाई में 46.0 से बढ़कर अगस्त में 52.0 हो गया। जून में अनलॉक 1.0 के बाद में मई से जुलाई के तीसरे सप्ताह तक आर्थिक गतिविधियों में उल्लेखनीय सुधार हुआ था। हालांकि, राज्य सरकारों ने जुलाई में स्थानीय लॉकडाउन लागू किए जिससे जुलाई के अंतिम सप्ताह से विकास की रफ्तार थम गई। अप्रैल और मई में लॉकडाउन के कारण मांग में बढ़ोतरी हुई है, जो कि फेस्टिव सीजन से पहले इन्वेंट्री बिल्डअप और अनलॉक 4.0 के तहत इकोनॉमी खुलने से आर्थिक गतिविधियों में सुधार की ओर ले जाएगी। हम उम्मीद करते हैं कि ग्रामीण, आवश्यक वस्तुओं और डिजिटल थीम में अगली कुछ तिमाही में रेवेन्यू दिखाएगी और मजबूत वृद्धि की संभावनाओं को जारी रखेगी। इस वजह से हम एग्रोकेमिकल्स, आईटी, टेलीकॉम, टू व्हीलर और ट्रैक्टर जैसे क्षेत्रों में अपना पॉजिटिव आउटलुक बनाए रखना चाहते हैं। हालांकि, हम उम्मीद करते हैं कि निकट भविष्य में रिकवरी थीम अर्थव्यवस्था में निरंतर सुधार के कारण मजबूत होगी। रिकवरी थीम में हमारा मानना है कि लो-टिकट कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, सीमेंट, होटल और मल्टीप्लेक्स जैसे सेक्टर अच्छा प्रदर्शन करें। मुख्य जोखिम जो रिकवरी रैली को बेपटरी कर सकती है, वह है-  1) अर्थव्यवस्था के खुलने के साथ ही संक्रमण में वृद्धि,  2) बाजारों की अपेक्षित समयसीमा की तुलना में वैक्सीन प्रोडक्शन में देरी 3) फेस्टिव सीजन के बाद को लेकर बाजार की अपेक्षाओं की तुलना में विकास में काफी गिरावट आई है   एंडुरेंस टेक्नोलॉजी (टारगेट 1,316 रुपए) एंड्योरेंस टेक्नोलॉजीज लिमिटेड भारत और यूरोप में ऑपरेशन के साथ भारत के प्रमुख मोटर व्हीकल...
दिल्ली NCR समाचार

रितेश अग्रवाल वेंचर कैटालिस्ट्स के साथ भारत में शुरुआती स्तर के स्टार्टअप इकोसिस्टम से जुड़े

रितेश अग्रवाल वेंचर कैटालिस्ट्स के साथ भारत में शुरुआती स्तर के स्टार्टअप इकोसिस्टम से जुड़े     17 अगस्त 2020: भारत के बढ़ते स्टार्टअप इकोसिस्टम और युवा उद्यमियों का समर्थन करने के लिए रितेश अग्रवाल देश के टिअर 1, 2 और 3 शहरों में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए सलाहकार की भूमिका निभाएंगे और देश के सबसे बड़े इन्क्यूबेटर वेंचर कैटालिस्ट्स (वीकैट्स) के साथ मिलकर काम करेंगे। तेजी से बढ़ते हुए इकोसिस्टम, भारत को, जो दुनिया में सबसे बड़े और सबसे तेजी से बढ़ते हुए इकोसिस्टम में से एक है, ज़्यादा से ज़्यादा अनुभवी और सफ़ल लोगों की ज़रूरत है जो आगे आकर एक-दूसरे की मदद कर सकें और साथ मिलकर इकोसिस्टम को आगे बढ़ाते हुए देश को ‘आत्मनिर्भर भारत’ बनाएं। रितेश देश और अपने साथ उद्यमियों का समर्थन करने के लिए इस दिशा में काम कर रहे हैं, जिसमें उनके साथ डॉ. अपूर्व शर्मा भी हैं, जो उन शुरुआती लोगों में से हैं, जिन्होंने रितेश के विज़न का तब समर्थन किया था, जब उन्होंने 2012 में ओरावेल स्टेस शुरू किया था, और 2013 में ओयो स्थापित किया था।   एक उद्यमी के रूप में, उड़ीसा के रायगडा के रहने वाले, रितेश ने कम उम्र में अपना सफ़र शुरू किया था और उन्हें उस ज़रूरी सलाह और मार्गदर्शन के महत्व का एहसास है, जिसकी ज़रूरत युवाओं और शुरुआती स्तर के संस्थापकों को पड़ती है। उन्हें यह याद है कि ओयो के निरंतर विकास और विस्तार को संभव बनाने में, कैसे स्टार्ट-अप इकोसिस्टम के विभिन्न लोगों ने बेहद महत्वपूर्ण और कार्यनीतिक भूमिका निभाई है। उनका मानना है कि एक स्टार्ट-अप को अपने शुरुआती दिनों में विभिन्न स्तरों पर समर्थन की ज़रूरत पड़ती है। जबकि संस्थापकों के लिए सही नज़रिया, ध्यान, दृढ़ता और धैर्य रखना बेहद ज़रूरी है, इसके साथ डॉ. अपूर्व जैसे लोगों की भूमिका भी खास है, जिन्होंने उनका समर्थन किया, मार्गदर्शन किया और दिशा दिखाई। उनका मानना है कि यही सफलता की कुंजी है। रितेश अग्रवाल ने इस नई साझेदारी पर टिप्पणी की, “मैंने बहुत छोटी उम्र में ओयो की शुरुआत की थी, ऐसे समय में जब इकोसिस्टम पूरी तरह से विकसित नहीं हुआ था। मैं काफी भाग्यशाली था कि मुझे डॉ. अपूर्व, बेजुल सोमाया और कई अन्य जैसे बेहतरीन मार्गदर्शक मिले, जिन्होंने मेरे स्टार्ट-अप की यात्रा में मेरा मार्गदर्शन किया और समर्थन दिया। आज कई पूर्व ओयोप्रेन्योर ने अपने नए वेंचर शुरू किए और वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। अब जबकि मैंने खुद को एक उद्यमी के रूप में स्थापित कर लिया है, तो मुझे लगता है कि समाज को वापस देने का समय आ गया है।” 19 साल की उम्र में ”20 अंडर 20” थिएल फ़ेलोशिप के लिए चुने जाने वाले, रितेश ने आगे कहा, “वीकैट्स के साथ यह साझेदारी करके, मैं भारत के छोटे शहरों से आने वाले युवा उद्यमियों को सक्षम बनाना चाहता हूं, जिन्हें बड़े शहरों या महानगरों में रहने वाले उनके साथियों जैसे समान अवसर नहीं मिलते हैं। मुझे भरोसा है कि हम टिअर 3 या 4 शहरों से अगला बड़ा आइडिया खोज पाएंगे।” वह यह प्रतिष्ठित फैलोशिप पाने वाले पहले एशियाई निवासी थे, जिसे 20 साल से कम उम्र के उद्यमियों के अभिनव विचारों का समर्थन करने के लिए प्रसिद्ध वेंचर कैपिटालिस्ट पीटर थिएल ने स्थापित किया था। वेंचर कैटालिस्ट्स के संस्थापक डॉ. अपूर्व रंजन शर्मा ने टिप्पणी की, “हम रितेश के साथ साझेदारी करके रोमांचित हैं। वह फिलहाल एमडीआई यूनिवर्सिटी के बोर्ड में शामिल हैं और थिएल फेलोशिप पाने वाले पहले भारतीय रहे हैं, जो उनके संपूर्ण सफ़र को दर्शाती है। मैं एक शुरुआती समर्थक था, और भारत में विद्यार्थियों और युवा संस्थापकों का समर्थन करने के प्रति उनके समर्पण को देखकर वाकई काफी खुश हूं। रितेश का अनुभव उद्यमियों के लिए काफी मूल्यवान साबित होगा, जिसके साथ ही हम भारत के सभी टिअर 1,2,3 और 4 शहरों में मौजूद स्टार्टअप्स के लिए एक मजबूत बुनियादी ढांचे का निर्माण करने की अपनी योजना पर अमल करना जारी रखेंगे। उनका अनुभव आने वाले ऐसे कई उद्यमियों के लिए मददगार साबित होगा, जो अगला यूनिकॉर्न बनने की क्षमता तो रखते हैं लेकिन उनके पास सही समर्थन और मार्गदर्शन की कमी है।” इन्क्यूबेशन में पीएचडी करने वाले डॉ. शर्मा 2000 के बाद से भारत के स्टार्टअप इकोसिस्टम के संस्थापकों में से एक हैं। उन्होंने देश में इन्क्यूबेशन की अवधारणा को आगे बढ़ाया है और 2015 में वीकैट्स शुरू करने से पहले एक दर्जन से अधिक इनक्यूबेटर और एसेलरेटर स्थापित किए हैं।   वीकैट्स के बारे में: वीकैट्स अब टेकक्रंच के क्रंचबेस की रैंकिंग के अनुसार दुनिया का सातवां सबसे बड़ा एकीकृत इन्क्यूबेटर है। यह शुरुआती स्टार्टअप्स का विकास करने और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए जाना जाता है। यह मुंबई स्थित इन्क्यूबेटर जयपुर, रायपुर, भुवनेश्वर, वाइज़ाम, राजकोट और अहमदाबाद और अन्य जैसे 30 से अधिक छोटे शहरों में अपने कदम जमा चुका है। वीकैट्स के पास उन शहरों में बड़े आइडिया पहचानने की अपार क्षमता है, जिसकी वजह से इसने एफएमसीजी से फ़िनटेक तक...
दिल्ली NCR समाचार

गाया ने अपने प्रोडक्ट पोर्टफोलियो का किया विस्तार, साधारण घी के मुकाबले बेहतर व स्वास्थ्यवर्धक विकल्प ए2 गाय घी लॉन्च किया

गाया ने अपने प्रोडक्ट पोर्टफोलियो का किया विस्तार, साधारण घी के मुकाबले बेहतर व स्वास्थ्यवर्धक विकल्प ए2 गाय घी लॉन्च किया     18 अगस्त, 2020: देश के अग्रणी हेल्थ और वेलनेस ब्रैंड गाया ने ए2 काऊ घी लॉन्च किया है, जो सामान्य घी की तुलना में ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक और बेहतर है। यह उत्पाद देश के 25 राज्यों के 1200 से ज्यादा प्रीमियम आउटलेट पर उपलब्ध है और जल्द ही यह अमेजन और फ्लिपकार्ट सहित अन्य अग्रणी ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होगा। ए2 काऊ घी का लॉन्च ब्रैंड के बेहतर स्वास्थ्य के वादे को सुदृढ़ किया है। यह नई कैटगरी गाया की मौजूदा स्वास्थ्यवर्धक खाद्य उत्पादों और न्यूट्रिशनल सप्लीमेंट को नया आयाम देगी। विटामिन ए और जरूरी फैटी एसिड से युक्त गाया ए2 काऊ घी सामन्य घी का बेहतर प्राकृतिक विकल्प है। साहीवाल और राठी भारतीय गाय ब्रीड के ए2 दूध से निकले इस घी को पारंपरिक तरीकों से बनाया गया है। इस प्रक्रिया में शुद्धता और सभी जरूरी तत्वों का ध्यान रखा गया है। फैटी एसिड और ए2 बेटा कैसिन से युक्त यह घी पचाने में आसान और स्वास्थ्यवर्धक है तथा कॉलेस्ट्रॉल का स्तर नहीं बढ़ता है। यह सामान्य इम्युनिटी भी बढ़ाता है और केटो-फ्रेंडली है।  लॉन्च के बारे में बात करते हुए  गाया की पैरेंट कंपनी कॉस्मिक न्यूट्राकोस  सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड के संस्थापक और डायरेक्टर डॉली कुमार ने कहा कि “भारत में होने के नाते आप घी के बिना नहीं रह पाते हैं, जो कि हमारे दैनिक भोजन का हिस्सा है। हालांकि सामान्य घी में न सिर्फ जरूरी तत्वों की कमी होती है, बल्कि यह कई बीमारियों का कारण भी बनता है। उत्पाद की मांग और कीमतों पर प्रतिस्पर्धी दबाव बढ़ने के कारण इस उत्पाद कैटेगरी में कई प्रकार के गलत तरीकों का चयन शुरू हुआ है और गुणवत्ता के साथ समझौता किया जा रहा है। इसलिए आपकी रसोई तक पहुंचने वाला घी फायदेमंद नहीं होता है। ए2 काऊ घी इस प्रकार की सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए बेहतर स्वास्थ्य देता है। लोग केटो जैसे खास डायट पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं और इसे बिना किसी परेशानी के ले सकते हैं।” डॉली कुमार ने आगे बात करते हुए कहा कि “हम ग्राहकों के भरोसे को समझते हैं, जो वे बेहतर गुणवत्ता वाले उत्पादों पर करते हैं और हम उन्हें ऐसा उत्पाद दे रहे हैं, जिसकी गुणवत्ता सामान्य घी में नहीं मिल सकती है। गाया ए2 काऊ घी ऐसे ग्राहकों के लिए है जो इस बात में यकीन रखते हैं कि अच्छा भोजन ही बेहतर स्वास्थ्य की कुंजी है।” गाया ए2 काऊ घी पूर्ण रूप से सामान्य गाय के घी का विकल्प है। इसमें सामान्य घी की तुलना में कई प्रकार के न्यूट्रिशन के फायदने मिलते हैं। सामान्य घी में सैचुरेटेड फैट होता है, जो स्वास्थ्य को और खराब कर देता है। इसके अलावा शुद्ध गाय के घी की कैटगरी मांग विरुद्ध कीमत के फेर में उलझी हुई है, जिसके कारण गुणवत्ता से समझौता हो रहा है। जबकि गाया ए2 काऊ घी शुद्ध और बेहतर गुणवत्ता का वादा करता है। गाया ए2 काऊ घी किसी भी व्यक्ति के लिए एक सहज चयन है, जो स्वाथ्स्य जीवनशैली अपनाना चाहते हैं। यह उत्पाद स्वास्थ्य का ध्यान रखने वाले प्रोफेशनल और घर में उपयोग के लिए उपयुक्त है। गाया ए2 काऊ घी की कीमत 500 मिलीलीटर के लिए 1100 रुपए और 1 लीटर के लिए 2050 रुपए है। गाया के बारे में: गाया, कॉस्मिक न्यूट्रोकॉस सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड का हेल्थ व वेलनेस ब्रैंड है। गाया को 2009 में लॉन्च किया गया था और आज भी यह इकलौता ब्रैंड है, जो विभिन्न रेंज के हेल्थ फूड और न्यूट्रिशनल सप्लीमेंट मुहैया कराता है। गाया पूरे देश में 25000 आउटलेट औश्र 600 मॉर्डन ट्रेड आउटलेट, कैंटीन स्टोर्स डिपार्टमेंट, सेंट्रल पुलिस कैंटीन और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म जैसे अमेजन, फ्लिपकार्ट, बिगबास्केट, 1 एमजी, स्विगी आदि पर उपलब्ध है।...
दिल्ली NCR समाचार

भारतीय बाजारों में मामूली गिरावट; निफ्टी 0.19% नीचे, सेंसेक्स 11.57 अंक गिरा

भारतीय बाजारों में मामूली गिरावट; निफ्टी 0.19% नीचे, सेंसेक्स 11.57 अंक गिरा आईटी, ऊर्जा और आरआईएल शेयरों में खरीदारी के...
दिल्ली NCR समाचार

भारत के प्रमुख बिज़नेस ऐप, खाताबुक ने, कोविड-19 के दौरान सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमी व्यापार मालिकों के सहयोग की सराहना करने के लिए “धन्यवाद दुकानदार” अभियान शुरू किया है।

बिज़नेस हुआ ईज़ी तुरंत जारी करने के लिए भारत के प्रमुख बिज़नेस ऐप, खाताबुक ने, कोविड-19 के दौरान सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमी व्यापार मालिकों के सहयोग की सराहना करने के लिए "धन्यवाद दुकानदार" अभियान शुरू किया है।   छोटे व्यवसायों, व्यापारियों, किराने वालों और विक्रेताओं के जज़्बे को सलाम करने के लिए वीडियो की एक श्रृंखला जारी की है।   27 जुलाई, 2020: खाताबुक ने आज "धन्यवाद दुकानदार" नाम से वीडियो की एक श्रृंखला जारी की है, जिसमें भारत के स्थानीय दुकान मालिकों की बेमिसाल कोशिशों की सराहना करने वाले वीडियो शामिल हैं। ये वीडियो छोटे व्यवसायों, व्यापारियों, किराने वालों और विक्रेताओं को धन्यवाद देते हुए, देशभर में बढ़ाए गए लॉकडाउन के दौरान उनकी अथक सेवाओं की अहमियत की सराहना करते हुए उनके जज़्बे को सलाम करते हैं। खाताबुक पहली ऐसी कंपनी है जो इन नायकों को धन्यवाद देने का अभियान लेकर आई है। छोटे व्यवसायों, व्यापारियों, किराने वालों और विक्रेताओं की वजह से ही ऐसा मुमकिन हो सका है कि देश को इन मुश्किल हालातों में भी रोज़ाना उनकी ज़रुरत और आराम की चीज़ें मिलती रही है। खाताबुक मासिक रूप से सक्रिय 80 लाख से ज़्यादा व्यापारियों के साथ देश के छोटे बिज़नेस सेगमेंट में सबसे तेजी से बढ़ने वाली कंपनी है। खाताबुक देश के 729 में से 700 जिलों में मौजूदगी के साथ
1 2 3 12
Page 1 of 12