अपराधफरीदाबाद

प्रतिष्ठि व्यक्ति की फोटो के साथ छेड़छाड़ कर उसे आपत्तिजनक व अश्लील बनाकर व्हाट्सएप ग्रुप पर वायरल करने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार।

324views

सोशल मीडिया के किसी भी प्लेटफॉर्म कोई भी आपत्तिजनक मैैसेज ,अश्लील फोटो या झूठी खबर ना करें फॉरवर्ड।:- पुलिस आयुक्त।

सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म पर फरीदाबाद पुलिस की पैनी नजर।

फरीदाबाद पुलिस की साइबर अपराध शाखा ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है जो किसी प्रतिष्ठ की फोटो के साथ छेड़छाड़ कर उनको आपत्तिजनक और अश्लील बनाकर व्हाट्सएप ग्रुप पर वायरल किया था।

आपको बताते चलें कि शिकायतकर्ता राजेन्द्र सिंह निवासी एन.आई.टी. फरीदाबाद ने एक शिकायत दी कि ब्हाॅटसअप ग्रुप ‘Save no account cali22 ‘ में वह ग्रुपएडमिन है और उसके अलावा भी उक्त ग्रुप मे कई एडमिन है।

उक्त ग्रुप मे शामिल कुछ लोगो को वह जानता है और कुछ लोगो को नही जानता। इसी ग्रुप के एक नामपता नामालूम सदस्य ने कुछ प्रतिष्ठ व्यक्ति की फोटो में एडिटिंग कर उसको आपत्तिजनक और अश्लील बनाकर शेयर की है।

उपरोक्त शिकायत पर मुकदमा नंबर 146 दिनांक 09.04.2020 जेर धारा 153ए, 501, 201 भा.द.स. व 67 ए आई.टी. एक्ट थाना सारन फरीदाबाद में दर्ज किया गया।

श्रीमान पुलिस आयुक्त श्री के.के.राव, भा.पु.से ने इस बारे संज्ञान लेते हुए आरोपियो को जल्द पकडने के निर्देश दिए।

जिसके उपरान्त श्री मकसूद अहमद, भा.पु.से., पुलिस उपायुक्त अपराध, फरीदाबाद के दिशा निर्देश पर सहायक पुलिस आयुक्त, अपराध श्री अनिल कुमार, ह.पु.से. ने निरीक्षक बसंन्त, प्रभारी साईबर अपराध शाखा, फरीदाबाद के नेतृृत्व मे अनुसंधान अधिकारी उप.नि. योगेश कुमार , उप नि. राजेश , स.उ.नि. सत्यवीर व मुख्य सिपाही वसीम अहमद, मुख्य सिपाही नरेन्द्र, मुख्य सिपाही रामानन्द की एक टीम का गठन किया गया।

उच्च अधिकारियों के आदेशानुसार मुकदमा की तफतीश निरीक्षक बसंन्त, साईबर अपराध शाखा द्वारा अमल मे लाई गई।

दिनांक 09.04.2020 को उपरोक्त साईबर टीम ने तकनीकी की सहायता से आरोपी मुस्ताक आलम उर्फ मो. मुस्ताक पुत्र मजेबुल रहमान निवासी गांव सिममबल बाडी, जिला किशनगंज यू.पी. हाल किरायेदार गांव चकरपुर, गुरूग्राम को गिरफतार करने में कामयाबी हासिल की।

पुलिस आयुक्त श्री के के राव ने सोशल मीडिया इस्तेमाल करने वाले लोगों को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर कोई भी व्यक्ति किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कोई आपत्तिजनक फोटो एवं खबर शेयर करता है, या अफवाह फैलाता है।

जिससे किसी की प्रतिष्ठा को हानि पहुंचती है एवं किसी भी समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचती है और जिससे कि शहर में कानून एवं शांति व्यवस्था बिगड़ने की संभावना होती है तो पुलिस ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर जेल भेजा जाएगा।।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आरोपी मुस्ताक से फोटो वायरल करने में इस्तेमाल किया गया मोबाईल फोन बरामद कर जेल भेजा दिया है।

Leave a Response