फरीदाबादहरियाणा

पुलिस कमिश्नर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रायन स्कूल के अध्यापिकाओ व छात्र- छात्राओं से की मीटिंग ।

284views

पुलिस कमिश्नर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रायन स्कूल के अध्यापिकाओ व छात्र- छात्राओं से की मीटिंग ।

एंटी बुलिंग कैम्पेन के बारे में हुई चर्चा।

पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने अपने कार्यालय सेक्टर 21c के सभागार में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से
शहर के रायन इंटरनेशनल स्कूल के प्रिंसिपल्स, अध्यापक और विद्यार्थियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की। जिसमें उन्होंने बच्चों को आने वाली समस्याओं एवं उनके समाधान के बारे में विस्तृत चर्चा की।

चर्चा के दौरान प्रिंसिपल श्रीमती निशा शर्मा, सीनियर सेक्शन इंचार्ज श्रीमती भारती नागपाल, मिडिल सेक्शन इंचार्ज श्रीमती रेखा मलिक, जूनियर सेक्शन इंचार्ज श्रीमती रिचा मेहता, अध्यापक इंचार्ज मनदीप के अलावा 87 बच्चें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मौजूद रहे।

इस दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मौजूद 87 बच्चों में से शताक्षी शर्मा, नेहल शर्मा, रौनक, ख़ुशी शर्मा, दीक्षा भल्ला, चितवन शर्मा, सिया श्याम कुमार, पार्थ कॉल बच्चों ने पुलिस कमिश्नर से एंटी बुलिंग के संबंध में और निजी जीवन में आने वाली समस्याओं के बारे में प्रश्न किए।

इस दौरान स्कूल प्रधानाचार्य अध्यापक और बच्चों ने श्री सिंह से सवाल जवाब भी किए।

बच्चों ने पुलिस कमिश्नर महोदय से उनके द्वारा लिखी गई पुस्तक हौसला नामा के बारे में भी पूछा। जिस पर पुलिस कमिश्नर ने कहा कि यह किताब जिंदगी में हारे हुए इंसान को हौसला दिलाने का काम करती है।

बच्चों ने पुलिस आयुक्त महोदय से पूछा कि आपकी जिंदगी में कभी कोई ऐसा उतार-चढ़ाव आया है जब आप बहुत ही परेशान हो गए। बच्चों का जवाब देते हुए पुलिस कमिश्नर ने कहा कि सुख और दुख हमारे जीवन के साथ साथ चलते हैं लेकिन हमें अपनी पर्सनैलिटी को इन चीजों से अफेक्ट नहीं होने देना है।

इस सवाल पर श्री सिंह ने बच्चों से कहा कि बच्चे कई बार छोटी-छोटी चीज पर अपना मनोबल तोड़ देते हैं ऐसा नहीं होना चाहिए विद्यार्थी जीवन में आप में बहुत एनर्जी होनी चाहिए सकारात्मक विचार होने चाहिए। जीवन में बहुत उतार-चढ़ाव आते हैं उसका हमें सामना करना चाहिए।

पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने छात्रों को आत्मविश्वास की भावना का विकास करने के लिए कहा और कहा कि आप अपनी रूचि के अनुसार क्षेत्र चुनें जिसमें आप अपना सबसे अच्छा दिखा सकते हैं उसमें उत्कृष्टता प्राप्त करें।

पुलिस कमिश्नर ने बच्चों को विषम परिस्थितियों एवं मानसिक संतुलन तथा धैर्य बनाए रखने के लिए प्राणायाम का मूल मंत्र दिया उन्होंने कहा कि सुबह उठकर प्राणायाम और योग करें ध्यान लगाएं और मार्क्स औरेलियस की पुस्तक पढ़ने के लिए भी प्रेरित किया।

पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मौजूद 87 बच्चों से रूबरू होते हुए कहा कि अच्छे लोगों की संगत में रहे। हमारे जीवन में संगत का बहुत बड़ा प्रभाव होता है। इंसान की कामयाबी के पीछे हमारी संगत का बहुत ही अहम रोल होता है।

इस दौरान श्री ओपी सिंह ने कहा कि बुलिंग का विरोध करने/आवाज उठाने/अपनी बात रखने के लिए बच्चों को आगे आना चाहिए।

श्री सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई वार्ता को बहुत ही सकारात्मक बताया और कहा कि स्कूलों में बच्चों के साथ होने वाली बुलिंग को रोकने में स्कूल स्टाफ का अहम योगदान होता है।

पुलिस कमिश्नर और स्कूलों के प्रिंसिपल्स ने बुलिंग को लेकर अपने अपने विचार साझा किए।

पुलिस कमिश्नर ने छात्रों से कहा कि किसी भी क्षेत्र में जीत हासिल करने के लिए उस क्षेत्र में हमारी भागीदारी होनी महत्वपूर्ण है। किसी भी कार्य को पूरा करने में अपना पूरा योगदान दें।

इस दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रायन स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती निशा शर्मा ने पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह को छात्रों को प्रोत्साहित करने और एंटी बुलिंग कैम्पेन चलाने के लिए उनका धन्यवाद किया।

Leave a Response