पानीपतहरियाणा

कोरोना वायरस को रोकने के लिए जिस तरह से कोरोना योद्धाओं ने अपने जीवन की परवाह न कर परोपकार व आत्मीयता की भावना के साथ काम किया है और अच्छे परिणाम दिए हैं।

238views

पानीपत, 30 अप्रैल। कोरोना वायरस को रोकने के लिए जिस तरह से कोरोना योद्धाओं ने अपने जीवन की परवाह न कर परोपकार व आत्मीयता की भावना के साथ काम किया है और अच्छे परिणाम दिए हैं। यह सब उनकी निष्पक्ष काम करने की भावना को दर्शाता है। इनके लिए जितनी भी प्रशंसा की जाए,वह बेहद कम है। संकट की इस घड़ी में प्रत्येक नागरिक का यह कर्तव्य बनता है। हम इन कोरोना योद्धाओं का हौंसला बढाएं और जी-जान से इस महामारी पर विजय प्राप्त करें।
भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी और कोविड-19 के लिए जिला पानीपत में प्रदेश सरकार की ओर से लगाए गए नोडल अधिकारी मोहम्मद शाहिन की उपस्थिति में यह बात करनाल मण्डल की पुलिस महानिरीक्षक भारती अरोड़ा ने वीरवार को लघु सचिवालय में स्थित उपायुक्त कार्यालय में कोरोना महामारी के दौरान काम कर रहे विभिन्न चिकित्सकों, पुलिस कमियों, होमगार्डों को सम्मानित करते हुए कही। उनहोंने कहा कि कोरोना महामारी के इस युद्ध में चिकित्सकों के साथ-साथ पुलिस कर्मी, होमगार्ड के जवान व सफाई कर्मी अग्रणी योद्धाओं के रूप में लड़ाई लड़ रहे हैं। इनको सम्मान देकर हम सभी का सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है।
उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी को मात देने के लिए सम्पूर्ण भारत में लॉकडाउन है। लोग घरों में रहकर इस बिमारी से लड़ रहे हैं। वहीं पुलिस, स्वास्थ्यकर्मी, सफाईकर्मी जैसे तमाम जरूरी सेवाओं से जुड़े कर्मी हैं जो अपनी जान जोखिम में डालकर अपने दायित्वों का बखूबी निर्वहन कर रहे हैं। इसलिए इन्हें कोरोना योद्धाओं का नाम दिया गया है।
इस मौके पर उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के एसएमओ डॉ0 पवन कुमार व श्यामलाल, एमओ डॉ0 वीरेन्द्र व डॉ0 प्रीति भाटिया, लैब टैक्रीशियन राजन गर्ग, ड्राईवर सोमबीर, स्टाफ नर्स रजनी व संगीता, डीएमईओ अमित, एपीडिीमियोलोजिस्ट तनुजा, सोहन, सफाई कर्मी अनिल व सैक्योरिटी गार्ड सुरेन्द्र कुमार के अलावा पुलिस विभाग से डीएसपी हैड क्वार्टर सतीश वत्स, पीएसआई तेजपाल व होमगार्ड दिलावर व जसमेर को पुलिस विभाग का सीसी प्रथम श्रेणी प्रशंसा पत्र व नकद 2100-2100 रूपये देकर सम्मानित किया गया।
पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए आईजी भारती अरोड़ा ने कहा कि 3 मई के बाद लॉकडाउन को लेकर सरकार द्वारा जो भी दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे, उनकी अनुपालना सुनिश्चित की जाएगी। प्रवासी मजदूरों को लेकर सरकार संजीदा है। बाहर के लोगों खासकर दिल्ली-सोनीपत की ओर से आवागमन करने वाले लोगों को बैन किया गया है और बोर्डर को सील किया गया है। केवल आवश्यक वस्तुओं पर छूट प्रदान की गई है। शराब तस्करी को लेकर पुलिस विभाग ऐक्टिव मोड में है। यही कारण है कि, अब तक 95 से ज्यादा मुकदमें शराब तस्करी को लेकर जिला पुलिस द्वारा दर्ज किए गए हैं। उन्होंने आमजन से अपील की कि वे लॉॅकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और पुलिस विभाग के कर्मचारियों के साथ समन्वय स्थापित करें। पुलिस आम लोगों की सुरक्षा के लिए बनाई गई है। लेकिन आमजन को भी चाहिए कि वे इस कार्य में पुलिस विभाग का साथ दें। इस मौके पर डीसी हेमा शर्मा, एसपी मनीषा चौधरी, एडीसी प्रीति भी उपस्थित थे।
______________________________
पानीपत, 30 अप्रैल। सीएमओ डॉ संतलाल वर्मा ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस से सम्बन्धित कुल 875 सैम्पल अभी तक लिए गए हैं जिनमें से 766 की रिपोर्ट नेगटिव प्राप्त हुई है। 97 रिपोर्टस का परिणाम अभी प्राप्त नहीं हुआ है। होम अण्डर क्वारनटाईन के तहत 856 घरों के बाहर नोटिस चस्पा किए गए हैं। इसके अलावा डोर-टू-डोर सर्वे के लिए 928 आशावर्कर भी लगाई गई हैं।

Leave a Response